बिहार में भयंकर बेरोजगारी और और कोरोना की मार से लोग परेशान नीतीश सरकार चुनावों में व्यस्त : आसिफ

IMG_4432नई दिल्ली : ऑल इंडिया माइनॉरिटी फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष एस एम आसिफ ने कहा है कि जहां एक ओर बिहार में भयंकर बेरोजगारी से युवा परेशान है तो वही कोरोना की दोहरी मार से आम जन करहा रहा है। लेकिन नीतीश सरकार चुनावों में व्यस्त हैं। और कान में तेल डालकर सो रही है।

उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार ने जहां बिहार में रोजगार के लिए पिछले 15 सालों से कोई प्रबंध नहीं किए तो वहीं आज चुनावों को नजदीक देख उनको बिहार के रोजगार की याद आ रही है। वो किस मुंह से रोजगार की बात कर रहे हैं। जबकि बिहार में वो एक भी इंडस्ट्रीज उद्योग आदि लगवाने में कामयाब नहीं हो पाए वह भी तब जब केंद्र में उनके ही गठबंधन की सरकार है।

उन्होंने कहा कि जब चुनाव नजदीक आ गए हैं तो बिहार के मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री से पहले की तरह घोषणाएं करवाकर उद्घाटन की डेट दे रहे हैं पर यह बताएं कि पिछले 15 सालों में उन्होंने अब तक क्या-क्या किया है। उसकी जानकारी देने के लिए वह जनता के सामने अपना एक श्वेत पत्र प्रस्तुत करें नहीं तो यह समझा ही जाएगा कि बिहार की नीतीश सरकार पूरी तरीके से फेल साबित हुई है।

उन्होंने कहा कि जहां बिहार के युवा बेरोजगारी के दंश से दूसरे शहरों में पलायन करने पर मजबूर हैं तो वहीं दूसरी ओर बिहार के नीतीश कुमार युवाओं से किस मुंह पर वोट मांगेंगे उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण बिहार के लोगों को जो तकलीफें झेलनी पड़ी है उसको पूरी दुनिया ने अपनी आंखों से देखा था। तो ऐसे में बिहार के लोग अपने उन कष्टों को कैसे भूलेंगे उन्होंने कहा कि अब तय है ऐसी कच्ची सरकार अब जाने वाली है। और बीपीए बिहार प्रगतिशील गठबंधन की सरकार आने वाली है।

Comment is closed.