अफगानिस्तान में भारतीयों की सुरक्षा सुनिश्चित करें मोदी- डॉ आसिफ

तालिबानी शासन के साथ भारत सरकार अपनी स्तिथि स्पस्ट करे- माइनोरिटीज फ्रंट

sm-asif-picनई दिल्ली। आल इंडिया मैनोरिटीज़ फ्रंट के अध्यक्ष डॉ सैयद मोहम्मद आसिफ ने अफगानिस्तान में हुए सत्ता परिवर्तन पर चिंता प्रकट करते हुए कहा है कि अफगानिस्तान में सभी भारतीयों की सुरक्षा का प्रबंध प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को युद्धस्तर पर करना चाहिए।

डॉ आसिफ ने यहां जारी बयान में कहा कि प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री बताएं कि  किस प्रकार  हमारे राजदूत, स्टाफ और हमारे नागरिक भारत सुरक्षित वापस आएंगे और अफगानिस्तान के साथ हमारी भविष्य की रिलेशनशिप और रणनीति अब क्या होगी।

उन्होंने कहा कि स्तिथि अत्यंत गंभीर मोड़ पर है तालिबान पाकिस्तान  से पाकिस्तान के संरक्षण में भारत विरोधी उग्रवादी गतिविधि करते हैं और हमारी सेनाओं और हमारे नागरिकों को निशाना बनाते हैं।

उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान मौजूद स्वरूप बदल चुका है , वहां तालिबान का कब्जा हो गया है, तो भारत सरकार की खामोशी आत्मघाती हो सकती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  से अनुरोध है कि चुप्पी तोड़ें और बताएं भारतीय नागरिकों की सुरक्षित देश वापसी कैसे और कब होगी। इस अति गंभीर माम्पले पर विपक्ष को भी विश्वास में लीजिए।

माइनोरिटीज फ्रंट के अध्यक्ष ने कहा कि  इनका सीधा-सीधा असर हमारी सीमा, खासतौर से जम्मू-कश्मीर पर पड़ता है, इसलिए देश के सामरिक हितों की रक्षा के लिए क्या कारगर कदम उठाए जाएंगे, इस बारे चर्चा करके देश को विश्वास आप विश्वास में लें।

डॉ आसिफ ने कहा कि अफगानिस्तान में हालात दिल दहला रहे हैं, एयरपोर्ट से, लोग सीढ़ियों पर लटक कर गिर रहे हैं, मौत हो रहीं हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी बयान में यह कहना, हैरत में डालने वाला है कि हिंदुस्तानियों को वापस लाने की हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं।  हिंदुस्तानियों को वतन वापसी, सुरक्षित तौर होनी चाहिए। मोदीजी भविष्य की रणनीति क्या है, इसको लेकर देश को विश्वास में लीजिये।

Comment is closed.